ADVERTISEMENT

भारतीय मूल के ज्वेलर पर लाखों डॉलर की अंतरराष्ट्रीय धोखाधड़ी का आरोप

अगर शाह जायज तरीके से काम करता तो उसे शिपमैंट के लिए 5.5 प्रतिशत के हिसाब से ड्यूटी देनी पड़ती मगर उसने फर्जी लेबल लगाकर और गलत ठिकाने बताकर कानून की आंखों में धूल झोंकी। 

अटॉर्नी फिलिप आर सेलिंगर ने यह खुलासा किया है। / Image : NIA

भारतीय मूल के एक ज्वेलर पर न्यू जर्सी में अंतरराष्ट्रीय धोखाधड़ी योजना का संचालव करने और अन्य अवैध धंधों में लिप्त होने का आरोप लगाया गया है। अटॉर्नी फिलिप आर सेलिंगर ने खुलासा किया कि न्यूयॉर्क शहर के डायमंड डिस्ट्रिक्ट में आभूषण कंपनियों का संचालन करने वाले भारत और न्यू जर्सी के एक व्यक्ति पर संयुक्त राज्य अमेरिका में लाखों डॉलर के आभूषण आयात के लिए अवैध रूप से सीमा शुल्क से बचने की योजना का मुखिया होने और बिना लाइसेंस के लाखों डॉलर का अवैध धंधा करने का आरोप लगाया गया है। 

मुंबई (भारत) और जर्सी सिटी (न्यू जर्सी) के मोनिश कुमार किरणकुमार दोशी शाह उर्फ 'मोनीश दोशी शाह' (39) पर वायर धोखाधड़ी की साजिश रचने का एक मामला और अवैध कारोबार के संचालन का एक अन्य मामला दर्ज किया गया। शाह पर बिना लाइसेंस के अवैध आर्थिक कारोबार का भी आरोप है।

\शाह को पिछले सप्ताह गिरफ्तार गया था और बीती 26 फरवरी को नेवार्क संघीय अदालत में आंद्रे एम. एस्पिनोसा की अदालत में पेश किया गया था। शाह को घर में नजरबंदी और उस स्थान की निगरानी के साथ 100,000 डॉलर के मुचलके पर रिहा किया गया है 

दस्तावेजों और अदालत में दिए गए बयानों के अनुसार जनवरी 2015 से सितंबर 2023 तक शाह तुर्की और भारत से अमेरिका में आभूषण मंगाता रहा और शिपमेंट के लिए शुल्क से खुद को बचाता रहा। अगर शाह जायज तरीके से काम करता तो उसे शिपमैंट के लिए 5.5 प्रतिशत के हिसाब से ड्यूटी देनी पड़ती मगर उसने फर्जी लेबल लगाकर और गलत ठिकाने बताकर कानून की आंखों में धूल झोंकी। 

दस्तावेजों के अनुसार जुलाई 2020 से नवंबर 2021 तक शाह ने न्यूयॉर्क शहर के डायमंड डिस्ट्रिक्ट में कई कथित आभूषण कंपनियों का संचालन किया। इनमें MKore LLC (MKore), MKore USA Inc. (MKore USA) और Vruman Corp. (Vruman) शामिल हैं। शाह ने इन कंपनियों का इस्तेमाल लाखों डॉलर के अवैध वित्तीय लेनदेन करने के लिए किया। अगर शाह के आरोप साबित होते हैं तो उसे 20 साल तक की सजा हो सकती है। 

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related