ADVERTISEMENT

Digital Deepak:अब एआई ट्विन से डॉ. दीपक चोपड़ा करेंगे ज्ञान का विस्तार और कल्याण

डॉ. दीपक चोपडा के डिजिटल ट्विन से यूजर्स को उनके डिजिटल प्रतिनिधित्व से बातचीत करने और उनके प्रकाशित कार्यों से जुड़े प्रश्न पूछने का मौका मिलेगा। इतना ही नहीं, लोग उनकी आगामी पुस्तक 'डिजिटल धर्म' का प्रिव्यू भी कर सकेंगे।

कान क्रिएटिव फेस्टिवल में Digital Deepak एआई ट्विन का अनावरण करते दीपक चोपड़ा व सहयोगी। / Image provided

प्रसिद्ध भारतीय-अमेरिकी और इंटीग्रेटिव मेडिसिन व पर्सनल ट्रांसफॉर्मेशन क्षेत्र की नामचीन हस्ती डॉ. दीपक चोपड़ा ने कान क्रिएटिव फेस्टिवल में Digital Deepak एआई ट्विन का अनावरण किया है।

ट्विन प्रोटोकॉल, Cyberhuman.ai और डेक्टेक के सहयोग से विकसित इस पहल का उद्देश्य उन्नत तकनीक के जरिए लोगों के कल्याण में क्रांति लाना है। यह हेल्थ एंड माइंडफुलनेस पर दीपक चोपड़ा के व्यापक ज्ञान को सुलभ बनाने के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट का पहला चरण है। इसके जरिए लोग व्यक्तिगत रूप से सुरक्षित तरीके से डॉ चोपड़ा से संपर्क कर सकेंगे। 

डॉ. चोपड़ा ने इस अवसर पर कहा कि डिजिटल ट्विन्स और एआई तकनीक के जरिए दुनिया भर में अधिक से अधिक लोगों का जन कल्याण एवं माइंडफुलनेस के लिए मार्गदर्शन करना संभव हो सकेगा। आने वाले समय में मैं एआई ट्विन के जरिए गहरी अंतर्दृष्टि साझा करूंगा ताकि भरोसेमंद हेल्थ कोच और आध्यात्मिक मार्गदर्शक के रूप में अपनी सेवाओं को लोगों तक और भी बेहतर तरीके से पहुंचा सकूं।

ट्विन प्रोटोकॉल के सीईओ स्टेसी एंगल ने कहा कि अत्याधुनिक तकनीक को डॉ. दीपक चोपड़ा के गहन ज्ञान से जोड़कर हम जनकल्याण के एक नए प्रतिमान का नेतृत्व कर रहे हैं जो सुलभ, व्यक्तिगत और परिवर्तनकारी भी है। 

चोपड़ा के डिजिटल ट्विन से यूजर्स को उनके डिजिटल प्रतिनिधित्व से बातचीत करने और उनके प्रकाशित कार्यों से जुड़े प्रश्न पूछने का मौका मिलेगा। इतना ही नहीं, उनकी आगामी पुस्तक 'डिजिटल धर्म' का प्रिव्यू करने का भी अवसर मिलेगा। दिसंबर में आने वाली ये किताब कल्याण प्राप्त करने में एआई की भूमिका की पड़ताल करती है।

व्यक्तिगत कल्याण को बढ़ावा देने में एआई और डिजिटल ट्विंस की परिवर्तनकारी क्षमताओं पर चर्चा के लिए एक पैनल परिचर्चा का भी आयोजन किया गया। इसमें डॉ. चोपड़ा के अलावा पूनाचा मचैया, स्टेसी एंगल और बिल इनमैन शामिल हुए। इवेंट में सुरक्षित एवं अभिनव एआई समाधानों के जरिए जनकल्याण को लोकतांत्रिक बनाने की प्रतिबद्धता को रेखांकित किया गया।

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

 

 

Video

 

Related