ADVERTISEMENT

क्लाइमेट अनुकूल तकनीक से कर रही किसानों की मदद, भारतवंशी की कंपनी को टाइम-100 में सम्मान

भारतीय-अमेरिकी आदिथ मूर्ति की इस अग्रणी एग्रीकल्चर टेक्नोलोजी कंपनी ने अप्रैल 2024 तक डेढ़ लाख किसानों के प्रयासों से वातावरण से 10 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाई ऑक्साइड कम करने में मदद की है।

ये कंपनी ग्लोबल साउथ में किसानों की मदद करती है। / Image - Boomitra

एक भारतीय-अमेरिकी की कंपनी Boomitra (भूमित्र) को 2024 के लिए टाइम की 100 कंपनियों की लिस्ट में शामिल किया गया है। टाइम की यह लिस्ट एम्मा बार्कर के नेतृत्व में संपादकों और विशेषज्ञों द्वारा तैयार की जाती है। इसमें ऐसी कंपनियों को जगह दी जाती है, जो प्रभावशाली बिजनेस से अपनी इंडस्ट्री के भविष्य को आकार देने में जुटी हैं। 
 
Boomitra एक अग्रणी एग्रीकल्चर टेक्नोलोजी कंपनी है, जो अपने अनूठे दृष्टिकोण से कार्बन पृथक्करण के जरिए ग्लोबल साउथ के छोटे किसानों की मदद करती है। कंपनी का नाम संस्कृत से लिया गया है, जिसका अर्थ है 'पृथ्वी का मित्र'। भारतीय-अमेरिकी आदिथ मूर्ति (Aadith Moorthy) द्वारा स्थापित इस कंपनी का मकसद कृषि क्षेत्र और अपना कार्बन उत्सर्जन घटाने की इच्छुक कंपनियों के बीच की खाई को पाटना है। 

Boomitra के सीईओ आदिथ मूर्ति ने कहा कि टाइम मैगजीन की तरफ से 100 सबसे प्रभावशाली कंपनियों में जगह दिए जाने पर हम बेहद सम्मानित और आभारी महसूस कर रहे हैं। यह मान्यता हमें सार्थक बदलाव जारी रखने के लिए प्रेरित करेगी। 

Boomitra कंपनी किसानों को कम जुताई और फसलों को कवर करने जैसी तकनीक अपनाने में मदद करती है। इससे मिट्टी की गुणवत्ता बढ़ती है, जो कार्बन डाइऑक्साइड की मदद से पैदावार बढ़ाती है और जलवायु परिवर्तन को कम करती है।

अप्रैल 2024 तक Boomitra ने 150,000 किसानों के प्रयासों से वातावरण से 10 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाई ऑक्साइड कम करने में मदद की है। सीईओ मूर्ति ने कहा कि  ग्लोबल साउथ में छोटे किसान जलवायु परिवर्तन से काफी प्रभावित हैं। हम अगले साल तक हजारों सीमांत किसानों को कार्बन फाइनेंस में 200 मिलियन डॉलर बांटने की योजना बना रहे हैं।
 

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related