ADVERTISEMENT

भारत के लक्ष्य सेन को मिलेगा ओलंपिक टिकट, बैडमिंटन में बनेगा इतिहास

लक्ष्य की ओलंपिक टिकट अगर कन्फर्म हो जाती है, तो वह पुरुषों के सिंगल्स इवेंट में ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी होंगे। दो दशक में ऐसा पहली बार होगा।

लक्ष्य सेन ने BWF रेस टु पेरिस रैंकिंग में 12वां स्थान हासिल किया है। / X @lakshya_sen


भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन इतिहास रचने जा रहे हैं। उन्होंने एक तरह से ओलंपिक का टिकट हासिल कर लिया है। वह दूसरे भारतीय खिलाड़ी हैं, जिसने पुरुषों के सिंगल्स इवेंट में ओलंपिक 2024 के लिए क्वालिफाई किया है। 

लक्ष्य सेन की ओलंपिक एंट्री का हालांकि आधिकारिक ऐलान होना अभी बाकी है। लक्ष्य की BWF रेस टु पेरिस क्वालिफिकेशन रैंकिंग में 12वें स्थान पर हैं। नियमों के अनुसार, बीडब्लूएफ रैंकिंग में टॉप-16 खिलाड़ियों को ओलंपिक में मौका मिलता है। 

लक्ष्य की ओलंपिक टिकट अगर कन्फर्म हो जाती है, तो वह पुरुषों के सिंगल्स इवेंट में ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी होंगे। भारत के एचएस प्रणय 9वें स्थान पर हैं।  

ओलंपिक में भारत से अगर इन दो बैडमिंटन खिलाड़ियों को मेंस सिंगल्स इवेंट में जाने का मौका मिलता है, तो दो दशक में यह पहली उपलब्धि होगी। इससे पहले 2004 के एथेंस ओलंपिक में भारत से अभिन्न श्याम गुप्ता और निखिल कानेतकर ने इस श्रेणी में भारत का प्रतिनिधित्व किया था।

लक्ष्य सेन ने पिछले कुछ समय में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। हाल ही में उन्होंने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था। इसमें अच्छे प्रदर्शन का भी उन्हें ओलंपिक क्वालिफाई करने में सहयोग मिला है। 

एशियन गेम्स के सिल्वर मेडलिस्ट लक्ष्य सेन इस प्रतियोगिता में डेनमार्क के एटोंन्सन को हराकर सेमी फाइनल तक पहुंचे थे। एटोन्सन रोड टु पैरिस रैंकिंग में तीसरे नंबर पर हैं। इसमें मलयेशिया के ली जी जिया ने 10वां स्थान हासिल किया है। 

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related