ADVERTISEMENT

सबसे ज्यादा अमेरिकी नागरिकता पाने वालों में भारतीय दूसरे नंबर पर

रिपोर्ट के अनुसार, पिछले वर्ष करीब 8.7 लाख विदेशी अमेरिका के नागरिक बने थे। इनमें सबसे ज्यादा 12.7 प्रतिशत मेक्सिको के थे जबकि भारतीयों की संख्या 6.7 प्रतिशत थी।

2023 में सबसे ज्यादा मेक्सिको के लोग अमेरिकी नागरिक बने थे। / फोटो unsplash.com

अमेरिका में पिछले साल 59 हजार से ज्यादा भारतीयों को नागरिकता प्रदान की गई। यूएस सिटिजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विसेज (USCIS) की तरफ से हाल ही में जारी वार्षिक रिपोर्ट 2023 में यह जानकारी देते हुए बताया गया कि पिछले वर्ष अमेरिका की सबसे ज्यादा नागरिकता पाने वालों में भारतीय दूसरे नंबर पर थे।
 



रिपोर्ट के अनुसार, पिछले वर्ष करीब 8.7 लाख विदेशी अमेरिका के नागरिक बने थे। इनमें सबसे ज्यादा 12.7 प्रतिशत मेक्सिको के थे जबकि भारतीयों की संख्या 6.7 प्रतिशत थी। संख्या में देखें तो यह 59,100 भारतीयों को अमेरिकी नागरिकता प्रदान की गई। रिपोर्ट बताती है कि अमेरिका के नागरिक बने नए विदेशियों में 35200 डोमिनिकन रिपब्लिक के और 44,800 फिलिपींस के थे। 

अमेरिका की नागरिकता हासिल करने के लिए इमिग्रेशन एंड नेशनेलिटी एक्ट (आईएनए) में निर्धारित कई पात्रता मानदंडों को पूरा करना आवश्यक होता है, जैसे कि कम से कम पांच साल तक वैध स्थायी निवासी (एलपीआर) होना जरूरी है। 

2023 में जिन विदेशियों को नागरिकता दी गई, उनमें से अधिकतर इस पात्रता को पूरा करते थे। हालांकि कई लोग ऐसे भी थे जिन्हें तीन साल के एलपीआर और अमेरिकी नागरिक से तीन साल की शादी पर नागरिकता दे दी गई। 

जहां तक अमेरिकी वीजा का सवाल है तो भारत में इसे लेकर काफी लंबी वेटिंग रहती है। मार्च 2020 में कोरोना महामारी फैलने के बाद जब दुनिया भर में लगभग सभी वीजा प्रोसेसिंग सेंटर बंद किए गए थे, उसके बाद से बहुत लंबी वेटिंग हो गई थी। 

कई मामलों में तो भारतीयों को वीजा अपॉइंटमेंट के लिए एक साल से ज्यादा समय तक इंतजार करना पड़ा था। हालांकि इसके बाद स्थिति में काफी सुधार किया जा चुका है। साल 2023 में भारत में अमेरिकी मिशन की तरफ से रिकॉर्ड 14 लाख से ज्यादा वीजा आवेदन प्रोसेस किए गए थे। 

 

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related