ADVERTISEMENT

IIT बॉम्बे से स्नातक भारतीय मूल के अमेरिकी सिद्धार्थ नायर इस कंपनी के बोर्ड में शामिल हुए

अपनी नियुक्ति पर 52 साल के नायर ने कहा कि मैं अल्टा के बोर्ड में शामिल होने और बाजार में इसकी तरक्की और पोजिशन का हिस्सा बनने को लेकर उत्साहित हूं। अल्टा इक्विपमेंट ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अध्यक्ष रयान ग्रीनवाल्ट ने कहा कि नायर की विशेषज्ञता हमारी इनिशिएटिव को आगे बढ़ाने के लिए अहम होगी।

Alta इक्विपमेंट ग्रुप लवानिया के बोर्ड में सिद्धार्थ नायर को नियुक्त किया गया है। / LinkedIn

IIT बॉम्बे से स्नातक भारतीय अमेरिकी सिद्धार्थ नायर को तत्काल प्रभाव से मिशिगन स्थित मशीनरी निर्माण कंपनी Alta इक्विपमेंट ग्रुप लवानिया के बोर्ड में नियुक्त किया गया है। 22 फरवरी से उनकी नियुक्ति प्रभावी है। कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि नायर के पास स्टार्टअप, नए बाजार में प्रवेश, ग्रोथ और व्यवसायों के डिजिटल ट्रांसफॉरमेशन का ग्लोबल एक्सपेरिएंस और नॉलेज है।

अपनी नियुक्ति पर 52 साल के नायर ने कहा कि मैं अल्टा के बोर्ड में शामिल होने और बाजार में इसकी तरक्की और पोजीशन का हिस्सा बनने को लेकर उत्साहित हूं। ग्रोथ के अवसरों का इस्तेमाल और कॉस्ट-एफिशिएंसी इनिशिएटिव को भुनाने के लिए मेरा जो अनुभव है वह अल्टा की विविध रणनीति के लिए फायदेमंद होगा।

इस मौके पर अल्टा इक्विपमेंट ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अध्यक्ष रयान ग्रीनवाल्ट ने कहा कि नायर का व्यापक व्यावसायिक नेतृत्व, अनुभव के साथ-साथ ऑटोमोटिव उद्योग में डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन और व्यावसायिक ट्रांसफॉर्मेशन में गहन ज्ञान हमारे लिए काफी फायदेमंद साबित होगा। उनकी विशेषज्ञता हमारी इनिशिएटिव को आगे बढ़ाने के लिए अहम होगी। मैं अल्टा परिवार के हिस्से के रूप में उनके योगदान के लिए तत्पर हूं।

अल्टा इक्विपमेंट कंपनी औद्योगिक फोर्कलिफ्ट, भारी निर्माण उपकरण और वेयरहाउस सॉल्यूशन प्रदान करती है । कंपनी अमेरिका और कनाडा में इंटीग्रेटेड इक्विपमेंट डीलरशिप प्लेटफार्मों को चलती है और उनका संचालन करती है।

नायर मर्सिडीज-बेंज फाइनेंशियल सर्विसेज यूएसए एलएलसी के लिए अमेरिका क्षेत्र के रणनीति प्रमुख के रूप में काम करते हैं और दिसंबर 2021 से अमेरिका, कनाडा और मैक्सिको में रणनीतिक और ट्रांसफॉरमेशन एक्टिविटी का नेतृत्व करते हैं। वह पहली बार 2003 में डेमलर फाइनेंशियल सर्विसेज में शामिल हुए और अमेरिका, कैरिबियन और भारत व्यापार इकाइयों में बीस से अधिक वर्षों के अपने कार्यकाल के दौरान बढ़ती जिम्मेदारी के साथ कई अहम भूमिका निभाई।

उन्होंने मिशिगन विश्वविद्यालय, रॉस स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए, पर्ड्यू विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग में मास्टर और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे से B.Tech किया है।

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related