ADVERTISEMENT

भारत में पले-बढ़े, बॉम्बे यूनिवर्सिटी से पढ़ाई, अब इस बैंक में राघवन को मिली अहम जिम्मेदारी

भारतीय अमेरिकी विश्वास राघवन को सिटीग्रुप ने अपने नए बैंकिंग प्रमुख और कार्यकारी उपाध्यक्ष के रूप में नॉमिनेट किया है। वह बैंक की सीईओ जेन फ्रेजर को रिपोर्ट करेंगे। फ्रेजर के मुताबिक, अपनी फर्म में विश्वास का स्वागत करने के लिए मुझसे अधिक उत्साहित कोई नहीं हो सकता।

विश्वास राघवन (लेफ्ट) भारत में पले-बढ़े हैं। बॉम्बे यूनिवर्सिटी से फिजिक्स में बीएससी किया है।। / @CJBS_EC

जेपी मॉर्गन के सीनियर एग्जीक्यूटिव भारतीय अमेरिकी विश्वास राघवन को सिटीग्रुप ने अपने नए बैंकिंग प्रमुख और कार्यकारी उपाध्यक्ष के रूप में नॉमिनेट किया है। वह बैंक की सीईओ जेन फ्रेजर को रिपोर्ट करेंगे। उनके इस गर्मी में सिटी बैंक में शामिल होने की उम्मीद है। फ्रेजर ने सोमवार को सहकर्मियों को भेजे एक नोट में कहा कि राघवन की नियुक्ति हमारी फर्म में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा को आकर्षित करने की हमारी क्षमता का एक और उदाहरण है।

सीईओ जेन फ्रेजर के मुताबिक, बैंकिंग प्रमुख के रूप में राघवन सिटी बैंक के पांच प्रमुख व्यवसायों में से एक का नेतृत्व करेंगे। इनमें इन्वेस्टमेंट, कॉरपोरेट और कमर्शियल बैंकिंग की जिम्मेदारी होगी। कार्यकारी उपाध्यक्ष के रूप में अपनी भूमिका में वह बैंक की फर्म-वाइड स्ट्रेटजी को आकार देने और चलाने में मदद करेंगे। इसके अलावा प्रमुख रणनीतिक पहलों के साथ सहायता करेंगे। वह सिटी की कार्यकारी प्रबंधन टीम में शामिल होंगे और सिटी फाउंडेशन के बोर्ड में काम करेंगे।

फ्रेजर के मुताबिक, अपनी फर्म में विश्वास का स्वागत करने के लिए मुझसे अधिक उत्साहित कोई नहीं हो सकता। वह एक स्ट्रैटेजिक लीडर हैं और उनके पास ग्लोबल बैंकिंग कारोबार में रिजल्ट देने का एक मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड है। इससे पहले राघवन जेपी मॉर्गन से जुड़े थे, जहां वे हाल ही में ग्लोबल इन्वेस्टमेंट बैंकिंग के प्रमुख थे। इससे पहले 2020 से ग्लोबल इन्वेस्टमेंट और कॉरपोरेट बैंकिंग के सह-प्रमुख के रूप में काम कर चुके हैं।

इससे पहले उन्हें 2012 में EMEA इन्वेस्टमेंट और कॉरपोरेट बैंकिंग और ट्रेजरी सेवाओं का प्रमुख नियुक्त किया गया था। अपनी ग्लोबल बैंकिंग जिम्मेदारियों के अलावा, वह 2017 से EMEA में जेपी मॉर्गन के सीईओ भी थे, इस क्षेत्र में बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों और व्यापार प्रमुखों के साथ काम कर रहे थे। वह पहली बार 2000 में जेपी मॉर्गन में शामिल हुए थे और ग्लोबल लेवल पर लोन और इक्विटी कैपिटल मार्केट्स में अहम भूमिकाएं निभाई थीं।

राघवन भारत में पले-बढ़े हैं। बॉम्बे यूनिवर्सिटी से फिजिक्स में बीएससी किया। इसके बाद एस्टन विश्वविद्यालय (बर्मिंघम, यूके) से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग और कंप्यूटर साइंस में बीएससी ऑनर्स की डिग्री प्राप्त की, जहां से उन्हें डॉक्टरेट की मानद उपाधि भी मिली। वह इंग्लैंड और वेल्स में चार्टर्ड एकाउंटेंट्स संस्थान के साथ चार्टर्ड एकाउंटेंट थे। फ्रेजर ने लिखा कि राघवन हमारी बैंकिंग सिस्टम के लिए इस महत्वपूर्ण क्षण में पदभार संभालने के लिए सही व्यक्ति हैं।

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related