ADVERTISEMENT

तेलुगु फाइन आर्ट्स सोसाइटी ने न्यू जर्सी में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया

TFAS एक गैर-लाभकारी संगठन है जो तेलुगु संस्कृति और कला को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। साई दत्ता पीठम एडिसन, न्यू जर्सी में एक प्रसिद्ध आध्यात्मिक और सांस्कृतिक केंद्र है। TFAS के अध्यक्ष मधु अन्ना की अगुवाई में 125 से अधिक मरीजों का इलाज किया गया।

यह कार्यक्रम साई दत्त पीठम के साथ साझेदारी में एडिसन, न्यू जर्सी के शिव विष्णु मंदिर के सामुदायिक हॉल में आयोजित किया गया। / Courtesy Photo

तेलुगु फाइन आर्ट्स सोसाइटी (TFAS) के अध्यक्ष मधु अन्ना के नेतृत्व में 9 जून को एक निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। TFAS एक प्रसिद्ध संगठन है जो अपना 40वां वर्षगांठ मना रहा है। यह कार्यक्रम साई दत्त पीठम के साथ साझेदारी में एडिसन, न्यू जर्सी के शिव विष्णु मंदिर के सामुदायिक हॉल में सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक आयोजित किया गया। इस दौरान 125 से अधिक मरीजों का इलाज किया गया।

इस कार्यक्रम में बर्नार्ड्स टाउनशिप की मेयर जेनिफर असेई भी मौजूद थीं। उन्होंने समुदाय सेवा के प्रति समर्पण के लिए TFAS और साई दत्ता पीठम दोनों की सराहना की। मेयर असेई ने स्थानीय समुदायों का समर्थन करने में इस तरह की पहलों के महत्व पर प्रकाश डाला। TFAS एक गैर-लाभकारी संगठन है जो तेलुगु संस्कृति और कला को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। साई दत्ता पीठम एडिसन, न्यू जर्सी में एक प्रसिद्ध आध्यात्मिक और सांस्कृतिक केंद्र है। यह संस्था विभिन्न धार्मिक, सांस्कृतिक और सामाजिक सेवा गतिविधियों के माध्यम से समुदाय की सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध है।

साई दत्ता पीठम के संस्थापक और अध्यक्ष रघुसारम शंकरमांची ने शिविर के लिए सुविधाएं प्रदान कीं। TFAS समिति को उनके नेक प्रयासों के लिए आशीर्वाद दिया। उनके समर्थन ने कार्यक्रम के सुचारू रूप से संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। डॉ. जानी कृष्णा, डॉ. जनार्दन बोल्लू, डॉ. शांति एप्पनपल्ली, डॉ. अनिश निहलानी, डॉ. श्रीनिवास पावुलुरी, डॉ. मधु राजाराम, और डॉ. देवीप्रिया तिरुग्नानानंधम सहित प्रतिष्ठित चिकित्सा पेशेवरों की एक टीम ने विशेष उपचार प्रदान किया। मरीजों ने डॉक्टरों की असाधारण और मुफ्त सेवाओं के लिए आभार व्यक्त किया।

अवंतिक लैब्स ने रक्त परीक्षण सेवाएं प्रदान कीं। वुडलैन फार्मेसी ने आवश्यक मेडिकल किट वितरित किए। इस तरह से दोनों ने ही शिविर की सफलता में महत्वपूर्ण योगदान दिया। इस आयोजन में विभिन्न समुदाय के सदस्यों और स्वयंसेवकों की सक्रिय भागीदारी देखी गई। इनमें दामू गेडाला, वेंकट सत्य, सुभद्रा, लता देवी, वारा लक्ष्मी, वानी, अरुंधती, शेषागिरी, लोकेंद्र, महिधार और एडिसन काउंसिल सदस्य अजय पाटिल शामिल थे।

 

Comments

ADVERTISEMENT

 

 

 

ADVERTISEMENT

 

 

E Paper

 

Related